आय से अधिक संपत्ति मामले में निलंबित IAS अफसर गिरफ्तार

आय से अधिक संपत्ति मामले में निलंबित IAS अफसर गिरफ्तार

देहरादून। राज्य सतर्कता विभाग की ओर से की गई बड़ी कार्रवाई के अंतर्गत आय से अधिक संपत्ति के मामले में निलंबित किए गए आईएएस अफसर को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनके आधा दर्जन बैंक अकाउंट भी अब फ्रीज किए जा रहे हैं।

बृहस्पतिवार को राज्य सतर्कता विभाग के निदेशक अमित सिन्हा की ओर से की गई एक बड़ी कार्यवाही के अंतर्गत आय से अधिक संपत्ति जमा करने के आरोप में निलंबित किए गए आईएएस अधिकारी डॉ रामविलास यादव को पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया है। राज्य सतर्कता विभाग के निदेशक का कहना है कि अब आय से अधिक संपत्ति के मामले में निलंबित आईएएस अधिकारी को रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी। आज अपराहन आईएएस अधिकारी को विजिलेंस टीम द्वारा अदालत के सामने पेश किया गया। आईएएस अफसर रामविलास यादव के आधा दर्जन बैंक खाते भी फ्रीज कर दिए गए हैं।

उल्लेखनीय है कि आईएएस अधिकारी रामविलास यादव के ऊपर आय से 500 फ़ीसदी अधिक संपत्ति अर्जित किए जाने के आरोप लगे हैं। पूछताछ में सहयोग नहीं करते हुए आईएएस अधिकारी राज्य सतर्कता विभाग की टीम द्वारा पूछे जा रहे सवालों का भी सही तरह से जवाब नहीं दे रहे थे। इससे पहले हाईकोर्ट की ओर से लगाई गई फटकार के बाद रामविलास यादव 22 जून दिन बुधवार को देहरादून के विजिलेंस दफ्तर में पूछताछ के लिए पहुंचे थे। जहां तकरीबन 14 घंटे तक राज्य सतर्कता विभाग की टीम द्वारा आईएएस अफसर से पूछताछ की गई थी।

उधर भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता विनय गोयल की ओर से कहा गया है कि उनकी पार्टी की पहले से ही भ्रष्टाचार के मामलों को लेकर स्पष्ट नीति रही है। भ्रष्टाचार के लिए उत्तराखंड में किसी के लिए कोई जगह नहीं है उन्होंने कहा है कि कोई भी अधिकारी भले ही कितना ही बड़ा क्यों ना हो उसके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी

Top