ज्ञानवापी मस्जिद पर फैसला देने वाले जज को सता रही सुरक्षा की चिंता

ज्ञानवापी मस्जिद पर फैसला देने वाले जज को सता रही सुरक्षा की चिंता

वाराणसी। विश्वनाथ मंदिर-ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वेक्षण पर रोक लगाने से इंकार का फैसला देने वाले जज को अब अपनी और परिवार की सुरक्षा की चिंता सता रही है। निर्णय देने वाले जज ने कहा है कि एक साधारण से मामले को असाधारण मामला बना दिया गया है। जिसके चलते मेरा परिवार अब मेरी सुरक्षा को लेकर चिंतित हो चला है।

शुक्रवार को ज्ञानवापी मस्जिद के सर्वेक्षण के मामले पर बृहस्पतिवार को अपना फैसला सुनाने वाले वाराणसी की जिला अदालत के सिविल जज सीनियर डिवीजन रवि कुमार दिवाकर को अब अपनी और परिवार की सुरक्षा की चिंता सताने लगी है। फैसला देने वाले जज ने कहा है कि ज्ञानवापी मस्जिद पर मेरे द्वारा फैसला सुनाए जाने के बाद अब मेरा परिवार मेरी सुरक्षा को लेकर चिंतित हो चला है, क्योंकि एक साधारण से मामले को बड़ा रूप देते हुए असाधारण बना दिया गया है।

उन्होंने कहा है कि ज्ञानवापी मस्जिद सर्वेक्षण के मामले को लेकर चौतरफा डर का माहौल बनाया जा रहा है। इसी के चलते वह अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर चिंतित हो चले हैं। उन्होंने कहा है कि डर इस कदर बैठ गया है कि मेरा परिवार हमेशा अब मेरी सुरक्षा को लेकर चिंतित रहता है और मैं अपने परिवार की सुरक्षा को लेकर चिंतित रहता हूं। जब भी मैं घर से बाहर रहता हूं तो रह रह कर मेरी पत्नी को मेरी चिंता सताती रहती है।

उन्होंने कहा है कि मीडिया से मिली खबरों के जरिए उन्हें पता चला है कि शायद मैं भी अब कमिश्नर के रूप में मौक पर जा रहा हूं और मेरी मां ने मुझसे कहा है कि मुझे मौके पर नहीं जाना चाहिए। क्योंकि इससे मेरी सुरक्षा को लेकर खतरा हो सकता है।

Top