छापे में बरामद हुआ बगैर बिल की दवाइयों का जखीरा- गोदाम किया सील

छापे में बरामद हुआ बगैर बिल की दवाइयों का जखीरा- गोदाम किया सील

अलीगढ़। स्वास्थ्य विभाग की ओर से पूरे होमवर्क के साथ की गई छापामार कार्यवाही में गोदाम के पांच कमरों के भीतर के बगैर बिल की अवैध दवाइयों का जखीरा बरामद हुआ है। भारी मात्रा में दवाइयों से लबालब भरे गोदाम को फिलहाल सील कर दिया गया है। दवाओं के भंडारण के लिए गोदाम का लाइसेंस नहीं लिया गया था।

स्वास्थ्य विभाग के औषधि निरीक्षक हेमेंद्र चौधरी अपने साथ हाथरस के औषधि निरीक्षक दीपक कुमार तथा कासगंज के औषधि निरीक्षक रमेश चंद्र यादव के अलावा थाना दिल्ली गेट इंस्पेक्टर के साथ भारी संख्या में पुलिस बल को साथ लेकर बृहस्पतिवार की देर रात महानगर के प्राइड फार्मास्यूटिकल पर छापामार कार्रवाई करने के लिए पहुंचे। पुलिस फोर्स की मौजूदगी के बीच की गई छानबीन के दौरान गोदाम के अलग-अलग पांच कमरों में दवाइयां भरी हुई मिली।

प्रबंधन से जब इन दवाइयों के बिल मांगे गए तो वह किसी भी दवाई का बिल स्वास्थ्य विभाग की टीम के सामने पेश नहीं कर सके। जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह के निर्देशन में स्वास्थ्य विभाग की टीम की ओर से की गई छापामार कार्रवाई के दौरान गोदाम में भरी मिली दवाइयों के सैंपल इकट्ठा किए गए। जिन्हें अब जांच के लिए लैबोरेट्री भेजा जा रहा है।

अधिकारियों का मानना है कि गोदाम के भीतर से बरामद हुई बगैर बिल की दवाइयां नकली भी हो सकती हैं जो बाजार में धड़ल्ले के साथ आपूर्ति की जा रही थी। अधिकारियों का कहना है कि दवाइयों की वास्तविकता क्या है इस बाबत सैंपल की रिपोर्ट के बाद ही पता चल सकेगा।

फिलहाल स्वास्थ्य विभाग की ओर से दवाइयों से भरे गोदाम को सील कर दिया गया है। गोदाम के भीतर बरामद हुई दवाइयों की कीमत तकरीबन तीन करोड रुपए होना बताई जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की इस बड़ी छापामार कार्रवाई से अब मेडिकल स्टोर संचालकों में चौतरफा हड़कंप मचा हुआ है।

epmty
epmty
Top