बदलेगी सूरत-निकाय चुनाव में नए सिरे से होगा सीटों का आरक्षण

बदलेगी सूरत-निकाय चुनाव में नए सिरे से होगा सीटों का आरक्षण

लखनऊ। स्थानीय नगर निकाय चुनाव की उद्घोषणा का इंतजार कर रहे उम्मीदवारों को इस बार वार्डो के आरक्षण में बड़ा उलटफेर देखने को मिलेगा।क्योंकि सरकार निकाय चुनाव में सीटों का नए सिरे से अब आरक्षण करने जा रही है।

दरअसल मौजूदा नगर निकाय के कार्यकाल की अवधि समाप्ति की ओर तेजी के साथ बढ़ रही है। जिसके चलते नगर निकाय चुनाव लड़ने के इच्छुक उम्मीदवारों ने अभी से ही अपनी गतिविधियां शुरू करते हुए लोगों के बीच जाकर अपनी पैठ बनाना शुरू कर दिया है। आमतौर पर मोहल्ले और शहर के लोगों से दूरी बनाकर रखने वाले लोग अब चुनाव को नजदीक देखकर अपने आसपास के लोगों के साथ वार्ड एवं शहर के लोगों से संपर्क स्थापित करने में तेजी के साथ जुट गए हैं।

लेकिन चुनाव लड़ने के इच्छुक लोगों को अभी एक झटका झेलने के लिए तैयार रहना होगा, क्योंकि प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार निकाय चुनाव में सीटों का नए सिरे से आरक्षण करने की योजना पर काम कर रही है। बताया जा रहा है कि अगले महीने से वार्डो के आरक्षण का काम शुरू कर दिया जाएगा। जिसके चलते प्रदेश भर के सभी शहरी एवं कस्बाई इलाकों में वार्डो की सीटों पर उलटफेर होने की आशंका जताई जा रही है। यदि वर्ष 2017 की बात करें तो उस दौरान राज्य में नगर निकाय की 653 सीटों पर इलेक्शन हुआ था। लेकिन इस बार अभी तक राज्य में 762 निकाय बन चुके हैं। पिछली बार की अपेक्षा इस बार वार्डो की संख्या भी 20,000 से अधिक होने जा रही है। सरकार की ओर से वार्डो का आरक्षण निर्धारित करने से पहले अधिकतर निकायों में रैपिड सर्वे का काम कराया जा रहा है।

epmty
epmty
Top