गैंगस्टर को शरण देने वाला दो मोबाइल समेत अरेस्ट- देता था पुलिस की जानकारी

गैंगस्टर को शरण देने वाला दो मोबाइल समेत अरेस्ट- देता था पुलिस की जानकारी

सहारनपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर के निर्देश पर फरार और वांछित बदमाशों के खिलाफ चलाए जा रहे धरपकड़ अभियान में गैंगस्टर एक्ट के तहत वांछित चल रहे आरोपियों को शरण देने के मामले में एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया है। जिसके पास से पुलिस दल द्वारा दो मोबाइल फोन भी बरामद किए गए हैं। जिनके माध्यम से वह पुलिस की गतिविधियों की जानकारी गैंगस्टर के वांछितों को उपलब्ध कराता था।

बृहस्पतिवार को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सहारनपुर आकाश तोमर, पुलिस अधीक्षक नगर व क्षेत्राधिकारी नकुड के निर्देशन में अपराध की रोकथाम हेतु चलाये जा रहे अभियान के दौरान थाना प्रभारी रामपुर मनिहारान विशाल श्रीवास्तव द्वारा हमराही फोर्स के साथ थाना रामपुर मनिहारन में पंजीकृत मु0अ0स0 212/22 धारा 2/3 गैगस्टर अधि0 के वाछिंत अभियुक्त मिन्टू उर्फ जितेन्द्र व रोकी उर्फ रजत आदि को शरण देने वाले अपराधी लोकेश कुमार पुत्र रामपाल निवासी जन्धेडा समसपुर थाना रामपुर मनिहारन जिला सहारनपुर को उसके मकान ग्राम जन्धेडा समसपुर से गिरफ्तार किया गया है।

लोकेश द्वारा यह जानते हुए भी कि दोनो व्यक्ति गैंगस्टर अधि0 में वाछिंत चल रहे है इसके बाद भी उसने दोनों को अपने घर में शरण दे रखी थी तथा मोबाईल फोन के माध्यम से लगातार सम्पर्क में रहकर पुलिस की गतिविधियो के सम्बन्ध में उन्हे सूचना दे रहा था। अभियुक्त के विरूद्ध मु0अ0स0 219/22 धारा 216 भा0द0वि0 का अभियोग पंजीकृत कर जेल भेजा जा रहा है।

वांछितों गैंगस्टर को शरण देते हुए उन्हें पुलिस की सूचनाये उपलब्ध कराने के आरोपी को गिरफ्तार करने वाली टीम में प्रभारी निरीक्षक विशाल श्रीवास्तव के अलावा का0 अजय कुमार, का0 अमित कुमार तथा का0 प्रवीण कुमार शामिल रहे।

Top