12 वर्ष से मौनधारी साधु ने भी यहां से भरा पर्चा- अब ऐसे मांगेंगे वोट

12 वर्ष से मौनधारी साधु ने भी यहां से भरा पर्चा- अब ऐसे मांगेंगे वोट

मथुरा। उत्तर प्रदेश में 18 वीं विधानसभा के गठन के लिए हो रहे चुनाव के प्रथम चरण की नामांकन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। जिसके चलते विभिन्न पार्टियों के उम्मीदवारों के अलावा अजीबोगरीब निर्दलीय उम्मीदवार भी चुनाव मैदान में अपनी ताल ठोक रहे हैं। जनपद की छात्रा विधानसभा सीट से एक ऐसे साधु ने अपना नामांकन किया है जो 12 वर्ष का मौन धारण किए हुए हैं, अब वह बोलकर नहीं इशारों एवं लिखकर वोट मांगेंगे। खर्च करने के लिए बाबा के पास कोई फूटी पाई नहीं है।

दरअसल उत्तर प्रदेश में हो रहे विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण की नामांकन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है और मथुरा जनपद की छाता विधानसभा सीट से कुंवारी गांव में रहने वाले 77 वर्षीय साधु मोनी फलहारी बापू ने भी अपना नामांकन दाखिल किया है। बाबा जनार्दन के शिष्य मुनि फलहारी बापू गांव के मंदिर में रहकर भगवान शिव की आराधना करते हैं। लंबे अरसे से ब्रज में रह रहे मोनी फलहारी बापू पिछले साढे 11 साल से मौन व्रत धारण किए हुए हैं। भगवा धारण करने वाले मोनी फलहारी बापू ने 12 साल का मौन धारण करने का व्रत लिख ले रखा है। बीते दिन नामांकन दाखिल करने के लिए कलेक्ट्रेट पहुंचे साधु बाबा ने अधिकारियों से भी इशारों में ही बात की और अपना नामांकन दाखिल किया। क्षेत्र का विकास कराने के उद्देश्य को लेकर चुनाव मैदान में उतरे मोनी फलहारी बापू ने इशारों में बताया है कि उनके पास 55000 रूपये की धनराशि थी, जिनमें से 10000 रूपये तो नामांकन कराने में खर्च कर दिए। अब बाकी बचे 45000 रूपये की एफडीआर बनवा ली है। अब वह विधानसभा चुनाव में उतरने के बाद मतदाताओं से जनसंपर्क हासिल करते हुए विकास के नाम पर वोट मांगेंगे। फलहारी बापू के इशारों को समझ कर जानकारी देते उनके अधिवक्ता तरिणी कुमार गौतम ने बताया है कि उनके मन के भीतर जनता की सेवा करने का जज्बा है। जिसके बाद इन्होंने राजनीति के जरिए जनता की सेवा करने का फैसला किया है।



Top