किसानो की समस्याओं को लेकर समाजसेवी मनीष चौधरी ने किया निरीक्षण

किसानो की समस्याओं को लेकर समाजसेवी मनीष चौधरी ने किया निरीक्षण

मुजफ्फरनगर। पहाड़ी क्षेत्रों में पिछले कई दिन से हो लगातार बारिश के चलते काली नदी का जलस्तर बढने से आसपास की हजारों बीघा फसल बर्बाद हो गई है। इस मामले की जानकारी पीडित किसानों ने प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी को दी, जिस पर मनीष चौधरी ने मौके का निरीक्षण किया और उनकी बात को सरकार उच्चाधिकारी तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। किसानों ने मुआवजा देने की मांग करने के साथ ही आवागमन हेतू रास्ता बनवाने की गुहार भी जिलाधिकारी से लगाई है।

शहर से लगती काली नदी के आसपास हजारों बीघा खेती योग्य ज़मीन है, जिसमें विभिन्न प्रकार की फसल बोकर क्षेत्र के लोग अपने परिवार का पालन पोषण करते हैं। पिछले कुछ दिनों से पहाड़ी क्षेत्र में भारी बारिश होने के कारण काली नदी का जलस्तर बढ गया है, जिसमें हजारों बीघा फसल बर्बाद हो गई । फसल बर्बाद होने से किसानों को बडा नुकसान झेलना पडा है। पानी भरने से फसल बर्बाद होने का एक बड़ा कारण ये भी है कि फसल में भरे पानी को निकालने के लिए खेतों तक जाने का कोई रास्ता नहीं है, जिससे किसान खेतो से पानी नहीं निकाल पा रहे हैं और फसल खेत मे ही गल रही है। इसी गंभीर समस्या को लेकर आज सुबह क्षेत्र के सैकड़ों किसानों ने प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की और अपनी समस्याओं के बारे में बताया। इसके बाद प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी ने मौके पर जाकर निरीक्षण कर सरकार व उच्चाधिकारी तक उनकी बात पहुंचाने का आश्वासन दिया। किसानों ने फसल बर्बाद होने का मुआवजा मांगा और जिलाधिकारी से आवागमन के लिए रास्ता बनवाने की मांग की है।

इस अवसर पर प्रमुख रूप से नवीन कश्यप, हंसराज कश्यप, मुन्नू कश्यप, राजू, लीलापत, मौहम्मद नईम, आदेश, सुभाष कश्यप, प्रेम, कल्लू सैनी, बोबी, फैजान, भूरा, वसीम, सलीम, राकेश सैनी, विनोद सैनी, दुर्गेश, गौतम, मांगेराम, हाजी राशिद, सतीश, सुशील, सन्नी, पवन, संजय आदि मौजूद रहे।

epmty
epmty
Top