कोरोना काल में सिर्फ पटेलनगर में ही हुआ था श्री रामलीला का मंचन- मनीष चौधरी

कोरोना काल में सिर्फ पटेलनगर में ही हुआ था श्री रामलीला का मंचन- मनीष चौधरी

मुजफ्फरनगर। नवरात्र के बीच ही रामलीला का उत्साह चरम पर है। शहर में नई मण्डी स्थ्ंिात पटेलनगर रामलीला में भस्मासुर सहित अन्य लीलाओं का मंचन देखकर दर्शक रोमांचित हो गये। इस बार बारिश का साया रामलीला आयोजन पर भी पड़ा, लेकिन दो दिनों से मौसम ठीक रहने के कारण रामलीला में भीड़ बढ़ी है।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी अपनी धर्मपत्नी श्रीमती निधि चौधरी के साथ उपस्थित रहे, उन्होंने सपत्नीक आरती भी की। कार्यक्रम के दौरान मनीष चौधरी ने कहा कि कोरोना काल में जनपद में सिर्फ पटेलनगर में ही रामलीला का मंचन हुआ, जो अपने आप में गौरव की बात है। इसके अलावा प्रदेश में अयोध्या में रामलीला का मंचन हुआ था। उन्होंने कहा कि श्री आदर्श रामलीला समिति द्वारा कोरोना काल में प्रतिदिन 4 हजार लोगों का खाना तैयार कराया जाता था और उसे विभिन्न क्षेत्रों में जरूरतमंदों को वितरित किया जाता था, जो अपने आप में बेहद ही सराहनीय कार्य है। ज्ञातव्य है कि श्री आदर्श रामलीला कमैटी ;रजिद्ध पटेलनगर द्वारा पिछले 47 वर्षाे से निरंतर श्री रामलीला का आयोजन कराया जा रहा है।

बीती रात रामलीला मंचन का शुभारंभ मुख्य अतिथि प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी सपत्नीक, योगेन्द्र अग्रवाल जेवी स्टील, अम्बरीश जी सिल्वर स्टोन पेपर मिल, समाजसेवी सत्य प्रकाश रेशू अग्रवाल व श्री आदर्श रामलीला कमेटी के प्रबंधक अनिल ऐरन एवं सभासद विकल्प जैन द्वारा भगवान श्री गणेश की आरती पूजन करके व दीप प्रज्वलित करके किया गया। इसके पश्चात श्री आदर्श रामलीला कमैटी की ओर से आये हुए समस्त अतिथियों को स्मृति चिन्ह प्रदान कर एवं पटका पहनाकर सम्मानित किया गया।

श्री रामलीला पटेल नगर में भस्मासुर सहित कई लीलाओं का मंचन किया गया। इसके साथ ही भगवान श्रीराम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न का जन्म हुआ। पटेल नगर रामलीला में हजारों की संख्या में दर्शक मौजूद रहे।

इस अवसर पर प्रमुख समाजसेवी मनीष चौधरी के अलावा योगेंद्र अग्रवाल, अम्बरीश जी, सत्य प्रकाश रेशु, रामलीला कमेटी से प्रबंधक अनिल ऐरन, रामलीला कार्यक्रम संयोजक विकल्प जैन, गोपाल चौधरी, प्रमोद गुप्ता, सुरेंद्र संगल, जितेंद्र कुच्छल, अमित भारद्वाज, नारायण एरन, अंशुल गुप्ता, आदि मौजूद मुख्य रूप से देर रात्रि तक मौजूद रहे।

epmty
epmty
Top