शमशान में मना जन्मदिन- जश्न में केक के साथ मेहमानों ने उड़ाई बिरयानी

शमशान में मना जन्मदिन- जश्न में केक के साथ मेहमानों ने उड़ाई बिरयानी

नई दिल्ली। बर्थडे को यादगार बनाने के लिए लोग तरह-तरह के प्रयत्न करते हुए एक से एक नए तरीके खोजकर सामने लाते हैं। 44 साल के हो चुके गौतम रतन मोरे अपने जन्मदिन को मनाने के लिए श्मशान घाट पहुंचे और विधिवत रूप से भारी करतल ध्वनि के बीच केक काटा और मेहमानों को केक के अलावा खाने को बिरयानी परोसी।

महाराष्ट्र के ठाणे जनपद के कल्याण में रहने वाले गौतम रतन मोरे ने अंधविश्वासों को खत्म करने के मकसद से अपना 44 वां बर्थडे श्मशान में केक काटकर मनाया। 44 साल के हो चुके गौतम रतन मोरे जन्मदिन का केक काटने के लिए श्मशान घाट में पहुंचे और वहीं पर मेहमानों को भी न्योता देकर बुलाया। आधीरात को जन्मदिन का केक भारी करतल ध्वनि के बीच काटा गया।

बर्थडे पार्टी में शामिल हुए मेहमानों को केक काटने के बाद बिरयानी और केक खाने के लिए परोसा गया। जन्मदिन को यादगार बनाने के लिए गौतम रतन मोरे ने रात का समय चुना और इसके लिए बाकायदा एक फ्लेक्स बोर्ड भी बनवाया। जिस पर मराठी में शुभकामना संदेश लिखे गए थे।

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे गौतम रतन मोरे के एक फोटो में दिखाई दे रहा है कि जहां चिता जलाई जाती है लोग वहां पर बैठकर खाना खा रहे हैं। एक और वायरल हो रहे फोटो में पार्टी में आए लोग भी बिना किसी डर के श्मशान घाट के भीतर खड़े दिखाई दे रहे हैं।

epmty
epmty
Top