उम्मीदवारों की दूसरी सूची में भी मुस्लिम और पिछड़ों पर लगाया दांव

उम्मीदवारों की दूसरी सूची में भी मुस्लिम और पिछड़ों पर लगाया दांव

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के विधान सभा चुनाव में कांग्रेस ने गुरुवार को जारी की गयी अपने उम्मीदवारों की दूसरी सूची में भी महिलाओं को 40 प्रतिशत टिकट देने के अलावा पिछड़े वर्ग और मुस्लिम उम्मीदवारों पर दांव लगाया है।

कांग्रेस द्वारा जारी की गयी 41 उम्मीदवारों की सूची में 12-12 उम्मीदवार सामान्य वर्ग और पिछड़ा वर्ग के हैं जबकि नौ उम्मीदवार मुस्लिम हैं। इस सूची में कांग्रेस ने अपने वादे के मुताबिक 16 महिला उम्मीदवारों को चुनाव मैदान में उतारा है। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी पहले ही विधानसभा चुनाव में 40 प्रतिशत महिलाओं को टिकट देने की घोषणा कर चुकी हैं।

उल्लेखनीय है कि कांग्रेस की पहली सूची में शामिल 125 प्रत्याशियों में 27 पिछड़े वर्ग के 19 मुस्लिम उम्मीदवार शामिल थे। जबकि दूसरी सूची में शामिल सामान्य वर्ग के 12 प्रत्याशियों में नौ ब्राह्मण एवं तीन राजपूत हैं। वहीं पिछड़े वर्ग के भी 12 उम्मीदवारों में पांच जाट समुदाय के हैं।

कांग्रेस के प्रत्याशियों की दूसरी सूची में बुलंदशहर की स्याना सीट से पूनम पंडित (25 वर्षीय) का नाम शामिल है। पूनम राष्ट्रीय स्तर की शूटिंग खिलाड़ी रह चुकी हैं। वह तीन कृषि कानूनों के खिलाफ चले आंदोलन की मुखर आवाज बन कर उभरीं हैं।

इसके अलावा कांग्रेस ने गाजियाबाद की साहिबाबाद सीट से संगीता त्यागी को उम्मीदवार बनाया है। वह कांग्रेस के प्रवक्ता रहे दिवंगत राजीव त्यागी की पत्नी हैं। अगस्त 2020 में एक खबरिया चैनल की डिबेट के दौरान राजीव का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। श्रीमती त्यागी डीएवी स्कूल की शिक्षिका रही हैं।

पार्टी ने हाल ही में बसपा से कांग्रेस में आयीं कई बार जिला पंचायत की अध्यक्ष रह चुकी उषा गंगवार को बरेली की नवाबगंज सीट से उम्मीदवार बनाया है।

Top