बसपा सत्ता में आयी तो ब्राह्मणों का शोषण होगा खत्म: मायावती

बसपा सत्ता में आयी तो ब्राह्मणों का शोषण होगा खत्म: मायावती
  • whatsapp
  • Telegram
  • koo

बांदा। बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती ने कहा है कि बसपा के सत्तारूढ़ होते ही ब्राह्मणों का शोषण समाप्त होगा।

बांदा के अतर्रा कस्बे में आयोजित एक चुनावी जनसभा में बसपा प्रत्याशी मयंक द्विवेदी को वोट देने की अपील करते हुए उन्होने कहा कि फिलहाल गरीबों में खासकर ब्राह्मणों की हालत दयनीय है। उन्होने आरोप लगाया कि भाजपा और सपा सरकारों में ब्राह्मणों का शोषण किया गया। बसपा की सरकार बनने के बाद शोषण समाप्त होगा।

उन्होंने कहा कि हमने टिकट देने में भी सर्व समाज का ध्यान रखा वहीं सपा सरकार में एससी/ एसटी की सरकारी नौकरियों में आरक्षण खत्म किया गया था। जिससे स्पष्ट हुआ कि सपा दलित व आदिवासियों के विरुद्ध है। यही नहीं महापुरुषों के नाम के जिलों और पार्कों के नाम को भी बदल दिया गया। उन्होंने ऐसी पार्टी को वोट न देने की अपील भी की।

बसपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा पूंजीपतियों की पार्टी है जिसने पूंजीपतियों को ही मालामाल किया और पूंजीपतियों के धन से ही पार्टी चल रही है। अभी हाल में ही सुप्रीम कोर्ट के फैसले की जानकारी मीडिया से मिली कि भाजपा , कांग्रेस व अन्य दल पूंजी पतियों से चंदा लेते हैं।

उन्होंने कहा कि मुफ्त राशन बांटने से गरीबी का अंत नहीं होता और न ही गरीबों का भला होता। समस्यायें तो आज भी ज्यों कि त्यों ही हैं। भाजपा , कांग्रेस की भांति सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग कर रही है। पूंजीपतियों की सरकार पूंजीपतियो से ही चलती है।

उन्होंने कहा कि बुंदेलखंड में मुस्लिम और अनुसूचित जाति के लोगों का विकास अब तक नहीं हुआ। किसानों को पर्याप्त संसाधन मुहैया नहीं हुए।

भाजपा की करनी कथनी में अंतर का जिक्र करते हुए कहा कि भाजपा सिर्फ वादा करती है काम नहीं। उन्होंने कहा कि बसपा की सरकार बनी तो बुंदेलखंड को अलग राज्य का दर्जा मिलेगा।

वार्ता

  • whatsapp
  • Telegram
  • koo
epmty
epmty
Top