अंतर्जनपदीय कुख्यात बमबाज गैंग का भंडाफोड़ कर सरगना किया गिरफ्तार

अंतर्जनपदीय कुख्यात बमबाज गैंग का भंडाफोड़ कर सरगना किया गिरफ्तार

प्रयागराज। ढाबे पर ग्राहकों के खाना खाते समय की गई बमबाजी के मामले में अपनी जांच पड़ताल को आगे बढ़ाते हुए आरोपियों को गिरफ्तार करने में लगी थाना सिविल लाइन पुलिस ने विवेक यादव उर्फ बागी समेत पांच लोगों को गिरफ्तार कर बमबाज गैंग का भंडाफोड़ किया है।

बृहस्पतिवार को जिला मुख्यालय पर आयोजित की गई प्रेसवार्ता में मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अजय कुमार पांडे ने बताया है कि 20 जून को थाना सिविल लाइन क्षेत्र में हरीश ढाबे पर हुई बमबारी की घटना को पुलिस गंभीरता से लेते हुए इस मामले में शामिल आरोपियों को गिरफ्तार करने के प्रयासों में लगी हुई थी। पुलिस ने बमबाज गैंग के अंतर्जनपदीय कुख्यात सरगना विवेक यादव उर्फ विवेक बागी समेत 5 लोगों को गिरफ्तार कर इस मामले का खुलासा किया है।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि मूल रूप से बलिया के रहने वाले विवेक बागी बमबाज गैंग में कुल 8 सदस्य शामिल हैं जिनमें से सरगना समेत पांच बदमाश पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिए गए हैं। जबकि शेष बची तीन सदस्यों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस द्वारा ताबड़तोड़ दबिश दी जा रही है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि हरीश ढाबे पर की गई बमबाजी की घटना में प्रयुक्त स्वीफ्ट कार भी पुलिस द्वारा बरामद की गई है। कार के भीतर से पुलिस ने 5 जिंदा बम के अलावा बदमाशों के कब्जे से एक तमंचा और कारतूस बरामद किए हैं।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि विवेक बागी और उसके गैंग के सदस्य इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के हालैंड हाल छात्रावास के कमरा नंबर 4, 30 और 70 में अवैध रूप से निवास करता थे। इस गैंग के सदस्य मऊ, गाजीपुर, बलिया, अमेठी, प्रतापगढ़, जौनपुर और प्रयागराज के रहने वाले पाए गए हैं। यह एक अंतर्जनपदीय गैंग है, जिसके सदस्यों के ऊपर हत्या के प्रयास, लूट, डकैती, आमदनी, बमबाजी और धोखाधड़ी से संबंधित कई मुकदमें पुलिस की जांच पड़ताल में पाए गए है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि कुख्यात विवेक बागी गैंग के बाकी सदस्यों की गिरफ्तारी और अन्य की जानकारी के लिए पुलिस की एक विशेष टीम गठित कर कार्यवाही के निर्देश दिए गए हैं।

Top