फर्जीवाडे पर प्रहार-लग्जरी गाड़ियां खरीदने बेचने वाले 9 शातिर अरेस्ट

फर्जीवाडे पर प्रहार-लग्जरी गाड़ियां खरीदने बेचने वाले 9 शातिर अरेस्ट

सहारनपुर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर की ओर से अपराधों पर लगाम लगाने के लिए अपराधियों के खिलाफ की जा रही कार्यवाही लगातार अपना असर दिखा रही है। एसपी सिटी के निर्देशन एवं क्षेत्राधिकारी प्रथम के पर्यवेक्षण में शहर कोतवाल अशोक सोलंकी के नेतृत्व में गठित की गई पुलिस टीम ने मुखबिर के जरिए मिली सूचना के आधार पर ढमौला नदी पुल से पहलवान पीर की ओर जा रहे लोगों की घेराबंदी करते हुए चेकिंग के दौरान आई-20 एवं उसके पीछे आ रही कार के भीतर से पांच व्यक्तियों को गिरफ्तार कर उनके बताए ठिकाने पर चार अन्य लोगों को गिरफ्तार किया। इस दौरान दो लोग मौके से फरार होने में कामयाब रहे। पुलिस ने गिरफ्तार किए गए लोगों से की गई पूछताछ के बाद 14 लग्जरी गाड़ियां बरामद की।

शनिवार को जिला मुख्यालय पर हुई प्रेसवार्ता में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक आकाश तोमर ने बताया है कि जनपद की शहर कोतवाली पुलिस और एसओजी की टीम ने बड़ी सफलता हासिल करते हुए फर्जीवाड़ा करते हुए लग्जरी गाड़ियां खरीदने और बेचने वाले 9 शातिर लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से विभिन्न फाईनेंस कंपनियों एवं बैंकों से लोन पर ली गई 14 लग्जरी गाड़ियां बरामद हुई है।


वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया है कि 13 मई की शाम शांति व्यवस्था एवं जुर्म जरायम की रोकथाम तथा वांछित अपराधियों की तलाश में गश्त कर रहे शहर कोतवाल अशोक सोलंकी और उनकी टीम तथा एसओजी को सूचना मिली कि फर्जीवाड़ा कर गाड़ियां खरीदने और बेचने वाले लोग कार में सवार होकर आ रहे हैं। इस बात की जानकारी मिलते ही शहर कोतवाल ने अपनी टीम के साथ चेकिंग अभियान चलाना शुरू कर दिया। इस दौरान सामने से आ रही आई-20 कार के अलावा उसके पीछे आ रही कार को रुकने का इशारा किया गया। लेकिन पुलिस को देखते ही दोनों गाड़ियों में सवार बदमाश अपनी गाड़ियों को मोड़कर ढमौला नदी की तरफ भागने लगे। पुलिस टीम ने घेराबंदी करते हुए चालक समेत सभी 5 लोगों को दबोच लिया। पुलिस द्वारा हिरासत में लिए गए उन पांचों बदमाशों से जब पूछताछ की गई तो उन्होंने अपने अन्य साथियों के नाम बताएं जो नन्हेड़ा गाजी रेलवे लाइन के किनारे हाईवे पुल के पास खड़े थे। जैसे ही टीम नन्हेड़ा गाजीपुर रेलवे लाईन के किनारे हाईवे पुल के पास पहुंची तो वहां मौजूद सभी लोगों ने मौके से भागने का प्रयास किया। लेकिन पुलिस टीम ने घेर घोटकर और आवश्यक बल प्रयोग करते हुए 4 व्यक्तियों को मौके पर दबाव लिया। इस दौरान मौके का फायदा उठा कर दो अन्य फरार हो गए।

पुलिस द्वारा की गई पूछताछ के बाद विभिन्न स्थानों से 14 लग्जरी गाड़ियां बरामद की गई। बरामद हुई गाड़ियों के संबंध में जब हिरासत में लिए गए बदमाशों से पूछा गया तो उन्होंने बताया कि हम लोग एक साथ मिलकर बैंक में सांठगांठ करते हुए गाड़ियों को अपने व अपने परिचितों के नाम पर बैंक से लोन कराते हुए डीडी किसी और के नाम से कराकर कंपनियों से गाडियां खरीद लेते हैं तथा गाड़ियों की आरसी से बैंक लोन की परिविष्टियों को हटाकर गाड़ी अन्य व्यक्तियों को उसके ऊपर कोई लोन नहीं होना बताकर ऊंचे दामों पर बेचते हुए मुनाफा हासिल करते रहते हैं। गाड़ी की साल भर तक कोई किश्म अदा नहीं की जाती है ताकि वाहन स्वामी को इस बात की जानकारी नहीं होने पाये। इस कार्य से हासिल हुए पैसों को आपस में बांट लेते हैं। सभी बरामद गाड़ियों के नंबर सहित जनपदों के थानों से जानकारी हासिल की गई तो उनके संबंध में मुकदमे दर्ज हुए मिले।

पकड़े गए लोगों ने अपने नाम सिद्धांत सिरोही पुत्र अनिल कुमार निवासी प्रेम विहार दिल्ली रोड थाना सदर बाजार सहारनपुर, बिन्नी पुत्र पुरुषोत्तम डंग निवासी न्यू पटेल नगर मैदा मिल थाना सदर बाजार सहारनपुर, राजीव महेश्वरी पुत्र स्वर्गीय राधेश्याम महेश्वरी माधव नगर थाना कोतवाली नगर सहारनपुर, बादल पुत्र राजेश सूद निवासी खलासी लाइन दुर्गापुरी थाना सदर बाजार सहारनपुर, मनीष पुत्र गुलशन निवासी वेस्ट सागरपुर थाना सागरपुर साउथ वेस्ट नई दिल्ली, सोनू उर्फ सुनील पुत्र तिलकराज निवासी ज्वाला नगर थाना कोतवाली सहारनपुर आशीष कुमार पुत्र सुरेंद्र कुमार निवासी ग्राम शेखपुरा थाना खतौली मुजफ्फरनगर, रोहित पुत्र अशोक कुमार कैलाश पुरी एक्सटेंशन पालम कॉलोनी नई दिल्ली, पंकज गुजराल पुत्र अश्वनी कुमार गुजराल निवासी श्याम नगर कॉलोनी भूतेश्वर थाना मंडी सहारनपुर तथा फरार बदमाशों के नाम राजीव पाठक निवासी फरीदाबाद तथा मयंक पुत्र राजेश निवासी मुक्ति वाड़ा रेवाड़ी हरियाणा बताएं।

शातिर ठगों को गिरफ्तार करने वाले पुलिस दल में प्रभारी निरीक्षक अशोक सोलंकी, प्रभारी उपनिरीक्षक मुबारिक हसन अभिसूचना विंग, वरिष्ठ उपनिरीक्षक सतीश कुमार, उप निरीक्षक अजय प्रसाद गौड़ अभिसूचना विंग, उप निरीक्षक देवेंद्र सिंह थाना कोतवाली नगर, हेड कांस्टेबल अजय सोलंकी अभिसूचना विंग, हेड कांस्टेबल नेत्रपाल अभिसूचना विंग, हेड कांस्टेबल राजबीर अभिसूचना विंग, कांस्टेबल अजीत अधिसूचना विंग, अभिसूचना विंग, कांस्टेबल राहुल, कांस्टेबल आकाश कुमार एवं विकास कुमार शामिल रहे।

Top