मुजफ्फरनगर के विद्यार्थी अपनी प्रतिभा से नित नये आयामो को प्राप्त कर रहे है : कपिल देव अग्रवाल

मुजफ्फरनगर आज श्रीराम काॅलेज के सभागार में ''प्रतिभा सम्मान समारोह'' का आयोजन किया गया। जिसमें मुख्य अतिथि कपिल देव अग्रवाल, राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), व्यवसासिक शिक्षा एवं कौशल विकास, उत्तर प्रदेश सरकार के साथ मुजफ्फरनगर की ऐसी प्रतिभाओ को सम्मानित किया गया जिन्होंने शिक्षा, राजनीति, खेल, चिकित्सा, विधि, उद्योग, कला एवं साहित्य आदि क्षेत्रो में न सिर्फ अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है बल्कि जिले को राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाई हैं।

प्रतिभा सम्मान समारोह के कार्यक्रम का शुभारम्भ मुख्य अतिथि कपिल देव अग्रवाल और अन्जू अग्रवाल, श्रीराम ग्रुप ऑफ काॅलिजेज के चेयरमेन डाॅ एससी कुलश्रेष्ठ, श्रीराम काॅलेज के निदेशक डाॅ आदित्य गौतम, श्रीराम काॅलेज की प्राचार्य डाॅ प्रेरणा मित्तल, श्रीराम काॅलेज के अध्यक्ष एनजी मजुमदार, श्रीराम इंजीनियरिंग काॅलेज के निदेशक डाॅ आलोक गुप्ता, श्रीराम काॅलेज ऑफ लाॅ के प्राचार्य डाॅ आर पी सिंह द्वारा द्वीप प्रज्ज्वलित कर किया गया ।


प्रतिभा सम्मान समारोह के कार्यक्रम में श्रीराम काॅलेज के अलग-अलग पाठ्यक्रमो में विश्वविद्यालय टाॅप करने वाले तथा मेरिट लिस्ट में स्थान प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों को स्मृति चिन्ह एवं अलग-अलग प्रायोजको द्वारा नकद पुरूस्कार से सम्मानित किया गया। जिनमें श्रीराम काॅलेज के अध्यक्ष एनजी मजुमदार द्वारा बीकाॅम टापर ईशा, डाॅ पूर्णानन्द गौतम की स्मृति में पत्रकारिता एवं जनसंचार में परास्नातक की टापर छात्रा शिवानी बर्मन, निशांक जैन द्वारा ललित कलां स्नातक टापर शिवांशु, श्रीराम चेरिटेबिल ट्रस्ट द्वारा गृह विज्ञान स्नातक टापर आरजू व ललित कलां परास्नातक टापर अमित कुमार, रामकुमार ज्वैलर्स द्वारा गृह विज्ञान (होम मैनेजमेन्ट) परास्नातक टापर सरिता बालियान को 5100/- रूपये नकद पुरूस्कार से सम्मानित किया गया।

राज्यमंत्री कपिल देव अग्रवाल ने कहा

कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कपिल देव अग्रवाल ने कहा कि मुजफ्फरनगर के विद्यार्थी अपनी प्रतिभा से नित नये आयामो को प्राप्त कर रहे है। वो हर क्षेत्र में अपनी पहचान तो बना ही रहे है साथ ही मुजफ्फरनगर जिले का नाम भी रोशन कर रहे है। उन्होने आगे कहा कि वर्तमान युग प्रतिस्पर्धा का युग है, ऐसे में हर विद्यार्थी को अपने लक्ष्य की जानकारी होनी चाहिए एवं लक्ष्य प्राप्ति के लिए सकारात्मक सोच के साथ संघर्षरत रहना चाहिए तभी वो भविष्य में सफलता अर्जित कर सकता हैं। इसके साथ ही उन्होने विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए कहा कि हमे सिर्फ किताबो तक ही सीमित नहीं रहना चाहिए बल्कि शिक्षण को अपनी जिन्दगी में प्रयोगात्मक रूप से स्थान देना चाहिए।

डाॅ एससी कुलश्रेष्ठ ने कहा

श्रीराम ग्रुप ऑफ काॅलिजेज के चेयरमैन डाॅ एससी कुलश्रेष्ठ ने इस अवसर पर बोलते हुए कहा कि हमारे जनपद में प्रतिभाओं की कोई कमी नहीं है जरूरत है तो सिर्फ उन्हे पहचान कर प्रोत्साहित एवं सही दिशा प्रदान करने की। इसके अतिरिक्त उन्होने महाविद्यालय के विश्वविद्यालय टापर्स एवं रैंक होल्डर्स की प्रशन्सा करते हुए कहा कि इन विद्यार्थियों ने न केवल विश्वविद्यालय में अपनी पहचान बनाई है बल्कि अपने माता-पिता, महाविद्यालय एवं जिले का भी नाम रोशन किया है। इसके अलावा उन्होंने कहा कि छात्र/छात्राओं को चाहिये कि वे अपने कौशल से पूरी दुनिया को रूबरू कराकर अपना और अपने परिवार का नाम रोशन करें। श्रीराम कालेज समय-समय पर ऐसे आयोजनों के माध्यम से छात्र/छात्राओं का विकास करने के प्रति अग्रसर रहता है।

डाॅ आदित्य गौतम ने कहा

श्रीराम काॅलेज के निदेशक डाॅ आदित्य गौतम ने विद्यार्थियों के उज्ज्वल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि पहचान मिलना तो आसान है लेकिन उसे कायम रखना उतना ही मुश्किल है। प्रत्येक विद्यार्थी के अन्दर कोई ना कोई विलक्षण प्रतिभा छुपी होती है। विद्यार्थी अपने रूचि के क्षेत्र में अपने भविष्य का निर्माण कर सकते है। विद्यार्थियों में व्यावहारिक पहलुओं के विकास से उनमें वास्तविक समझ का निर्माण होता हैं। जिससे कठिन विषयों की पढाई के व्यावहारिक पक्ष को बढावा देकर विषय को रूचिकर और मनोरंजक बनाया जा सकता है। टापर्स विद्यार्थियों के साथ-साथ उन्होने परीक्षा में कम अंक प्राप्त करने वाले विद्यार्थियों का भी उत्साहवर्धन किया।

कार्यक्रम के अन्त में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कपिल देव अग्रवाल को उत्तर प्रदेश शासन में राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार), व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास का पद ग्रहण करने के उपरान्त श्रीराम काॅलेज में प्रथम आगमन पर अभिनन्दन किया ।

इस अवसर पर कुशपुरी, आभा कुलश्रेष्ठ, रईस के जीअग्रवाल, अशोक बालियान, निशांक जैन, नितिशराज गर्ग, अशोक बाठला, भारत भूषण गौतम, प्रेमी छाबडा, असद फारूकी, डाॅ महावीर सिंह, रेवती नन्दन, विपुल भटनागर, ज्ञानी गुरूवचन सिंह, अश्वनी राज खण्डेल, डाॅ पुरूषोत्तम रोहित जैन आदि समाजसेवी व उद्योगपति उपस्थित रहे।

कार्यक्रम को सफल बनाने में प्रशान्त चौहान, डाॅ श्वेता, निशान्त राठी, नीतू सिंह, डॉ धर्मेन्द्र, डाॅॅ पूजा तोमर, डाॅ बुशरा, पंकज कुमार, डा अब्दुल अजीज खान, श्रुति मित्तल, श्रीकान्त सिंह, डाॅ केएस बर्मन, मुकेश कुमार, डाॅ सौरभ मित्तल, रवि गौतम आदि का विशेष योगदान रहा।


epmty
epmty
Top