नशे के सौदागरों का सुरूर उतार रहा एसएसपी अभिषेक यादव का 'जीरो ड्रग्स' अभियान

मुजफ्फरनगर आईपीएस अभिषेक यादव ने जनपद मुजफ्फरनगर में अपराध मुक्त वातावरण बनाने के लिए कई फैसले लिये। पुलिसिंग में व्याप्त तनाव और अवसाद की स्थिति से निपटने के लिए हैप्पी बर्थ डे और वीकली ऑफ जैसी सराहनीय और अभूतपूर्व पहल को यहां लागू करके उन्होंने जहां पुलिस फोर्स का विश्वास जीतकर उनका मनोबल बढ़ाने का काम किया है, वहीं जनपद को नशामुक्त करने के लिए उनका 'जीरो ड्रग्स कैंपेन' जनता के विश्वास को जीत रहा है। लगातार इसके लिए जनपद पुलिस अपने कप्तान के दृढ़ संकल्प के साथ मादक पदार्थों के कारोबार से जुड़े लोगों पर शिकंजा कस रही है। जनपद में नशे के सौदागरों का सुरूर उतारने के लिए 'जीरो ड्रग्स' अभियान काफी हद तक सफल नजर आ रहा है। इसके लिए हर स्तर पर काम हो रहा है। पुलिस जहां नशे के कारोबार में लिप्त महिला और पुरुषों को पकड़कर जेल भेजने का काम कर रही है, वहीं जनता के बीच पहुंचकर उनको नशे के कारोबार करने वालों पर नजर रखने के लिए प्रचार प्रसार का साधन भी अपनाया गया। एसएसपी अभिषेक यादव के इस अभियान के पहले ही दिन से पुलिस को सफलता मिलनी शुरू हो गयी थी।






एसएसपी अभिषेक यादव ने जनपद को अपराधमुक्त के साथ ही नशामुक्त बनाने के लिए चलाये जा रहे जीरो ड्रग्स अभियान के अंतर्गत जनपदीय पुलिस बल द्वारा सभी थाना क्षेत्रों में जागरुकता अभियान चलाया गया। इस अभियान में पुलिस कर्मचारियों ने थाना क्षेत्रों के गांव-गांव और शहर-शहर जाकर लोगों को अभियान की जानकारी दी, उनके बीच एसएसपी अभिषेक यादव के ड्रग्स फ्री मुजफ्फरनगर के संदेश के व्यापक प्रचार के लिए पम्पलेट भी वितरित किये। पोस्टर चिपकाये गये। इस अभियान के लिए निरंतर प्रतिदिन पुलिस अभियान चला रही है। इसमें पुलिस सबसे ज्यादा जोर नवयुवकों को जागरुक करने का काम कर रही है। पिछले दिनों शहर कोतवाली की रोहाना चौकी इंचार्ज उप निरीक्षक संजय त्यागी ने क्षेत्र में भ्रमण के दौरान पुलिस फोर्स और सैन्य बलों में भर्ती की तैयारी करने के लिए दौड़ लगाते नवयुवकों को भी नशामुक्ति के लिए मोटिवेट किया। जीरो ड्रग्स के प्रचार के लिए जागरुकता अभियान के अन्तर्गत जनपद के सभी थाना क्षेत्रों में थाना प्रभारी, चैकी प्रभारी, बीट आरक्षियों द्वारा जागरुकता अभियान चलाया गया, अभियान के अन्तर्गत जनसभाओं और बैठक कर स्थानीय व्यक्तियों को नशे के दुष्परिणाम के बारे में जानकारी दी गयी। साथ ही नशे से बचने व सही राह पर आने के उपायों से भी जागरुक किया गया। इस दौरान पुलिस कर्मियों ने लोगों के बीच जाकर पंपलेट बांटे और उनको चस्पा किये गये। लोगों को जागरुक करने के साथ साथ जनपदीय पुलिस द्वारा अपने अपने क्षेत्रों में जीरो ड्रग्स अभियान के शत प्रतिशत प्रसारण हेतु पंपलेट भी चस्पा किये गये। पंपलेट में हेल्पलाईन नम्बर अंकित है, जिससे सभी को अवगत कराया गया।






साथ ही लोगों तक एसएसपी अभिषेक यादव के संदेश के रूप में अपील की गयी कि यदि उनके आसपास कोई भी ड्रग्स बैचे या खरीदें, तो इसकी सूचना तत्काल पुलिस से वार्ता कर जानकारी दे, सभी व्यक्तियों को आश्वस्त किया गया कि उनकी पहचान पूर्णतय गोपनीय रखी जाएगी और किसी भी प्रकार की पूछताछ बिल्कुल नहीं की जाएगी। पुलिस अफसरों व कर्मचारियों ने इस जागरुकता अभियान के दौरान फौज और पुलिस भर्ती की तैयारी कर रहे नवयुवकों तथा स्कूल व कॉलेज में जाने वाले छात्रों को भी ड्रग्स के हानिकारक परिणामों के बारे में जागरुक किया गया। साथ ही 'जीरो ड्रग्स' अभियान के प्रचार पंपलेट पर अंकित नम्बर के बारे में भी जानकारी दी गयी। पुलिस कर्मियों ने लोगों को बताया कि यदि कोई व्यक्ति आपके आप पास या सार्वजनिक स्थान पर, खुले में, हाईवे पर चलती कार, मोटर साईकिल रोककर या बैठकर शराब का सेवन करता है, तो इसकी सूचना आप तत्काल थाना प्रभारी, चौकी प्रभारी, बीट आरक्षी के मोबाईल नंबर पर या मोबाईल नंबर-9690112112 अथवा 112 पर सूचना दे सकते हैं।






एसएसपी अभिषेक यादव ने जीरो ड्रग्स अभियान को लेकर जनता से अपील करते हुए कहते हैं, कि आप और हम मिलकर जीरो ड्रग्स अभियान को सफल बना सकते हैं, जनपद को नशा मुक्त बनाने में पुलिस का सहयोग करें।





जीरो ड्रग्स अभियान के लिए जनपद पुलिस को सबसे बड़ी सफलता अक्टूबर 2019 में उस समय मिली, जबकि भांग के सरकारी ठेकों की आड़ में नशे के काले कारोबार का भंडफोड किया।





सिविल लाइन पुलिस और क्राइम ब्रांच की इस सफलता पर खुद एसएसपी अभिषेक यादव ने पुलिस लाइन में खुलासा किया। पुलिस ने भांग के सरकारी ठेकों की आड़ में नशे का काला कारोबार कर रहे छह लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। आरोपियों के कब्जे से करीब 14 लाख रुपये कीमत का नशीला पदार्थ बरामद किया। क्राइम ब्रांच व सिविल लाइंस थाना पुलिस की टीम ने रेलवे रोड के नटराज तिराहे से मनोज निवासी बुढ़ाना मोड़ व रजनीश निवासी गांव गदनापुर, थाना हरपालपुर जनपद हरदोई और जितेंद्र निवासी मूसेपुर जलाल, थाना क्वारसी जनपद अलीगढ़ को गिरफ्तार किया था। इन आरोपियों के कब्जे से 65 किलो भांग 50 ग्राम गांजा, 40 ग्राम स्मैक, डेढ़ किलो चरस बरामद किए थे। इस बरामद मादक पदार्थों की कीमत करीब 14 लाख रुपये थी। इसके बाद से लगातार 'जीरो ड्रग्स' अभियान में पुलिस नशे का कारोबार करने वालों पर शिकंजा कसती चली आ रही है।





इसी कड़ी में 24 नवम्बर को थाना कोतवाली नगर पुलिस द्वारा जीरो ड्रग्स अभियान के अन्तर्गत 02 शातिर मादक पदार्थ तस्कर अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया। जिनके कब्जे से 11 किलोग्राम डोडा पाउडर बरामद हुआ है। इससे पूर्व 23 नवम्बर को एसएसपी अभिषेक यादव द्वारा जनपद में चलाये जा रहे जीरो ड्रग्स अभियान के अन्तर्गत थाना कोतवाली नगर पुलिस द्वारा 02 शातिर मादक पदार्थ तस्कर अभियुक्तों को बकरा मार्किट से गिरफ्तार किया गया। इससे पूर्व भी दोनो अभियुक्त हत्या व हत्या के प्रयास जैसी संगीन धाराओं में जेल जा चुके है। इन गिरफ्तार अभियुक्तों में नासिर पुत्र नसीर अहमद फारुकी व नबील पुत्र शादाब खान निवासी मोती महल शामिल रहे। इनके कब्जे से पुलिस ने 110 स्मैक की पुडिया (कीमत करीब 50 हजार रुपये) बरामद की गयी।





21 नवम्बर को थाना शाहपुर पुलिस द्वारा थाना क्षेत्र में जीरो ड्रग्स अभियान के अन्तर्गत शातिर मादक पदार्थ तस्कर अभियुक्त को एक किलोग्राम गांजा के साथ गिरफ्तार किया गया। थाना बुढाना पुलिस द्वारा 04 शातिर मादक पदार्थ तस्कर अभियुक्त व 01 अभियुक्ता को गिरफ्तार करते हुए कब्जे से भारी मात्रा में गांजा, डोडा पाउडर व अवैध शस्त्र बरामद किये। ग्राम मिण्डकाली बडोत रोड से पुलिस ने पुष्पेन्द्र उर्फ पूसी व सतेन्द्र उर्फ पप्पृ पुत्रगण रामपाल कश्यप निवासी ग्राम बड़ोदा, रोहित पुत्र जोगेन्द्र, सरिता पत्नी मलखान निवासी ग्राम पलडी थाना दौघट जनपद बागपत तथा रविन्द्र उर्फ नौमान पुत्र रामपाल कश्यप निवासी ग्राम बड़ोदा को गिरफ्तार करते हुए उनके कब्जे से 03 किलो भांग 688 ग्राम गांजा, 02 किलो 640 ग्राम डोडा पाउडर बरामद किया।

epmty
epmty
Top