जब मिनिस्टर कपिलदेव बने क्रिकेटर

मुजफ्फरनगर एक लम्बे अरसे के बाद स्थानीय स्पोर्ट्स स्टेडियम की पिच पर सर्दी की नीम गरम धूप के बीच औद्योगिक विकास की पिच से आपसी समन्वय और सामंजस्य के रास्ते खोलने का काम किया गया।





शासन व सत्ता के रास्तों को जनता के लिए सुगम बनाने का प्रयास शुरू किया गया है। इस अनूठी पहल को राज्य सरकार के व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कपिलदेव अग्रवाल ने गति देने का काम किया है।






आज स्टेडियम में जिला प्रशासन की पहल पर एक बार फिर से जनपद में मैत्रीपूर्ण वातावरण पैदा करने के साथ ही शासन व सत्ता के रास्तों को जनता के लिए सुगम बनाने का प्रयास शुरू किया गया है। इस अनूठी पहल को राज्य सरकार के व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) कपिलदेव अग्रवाल ने गति देने का काम किया है। उद्यमियों और जिला प्रशासन के बीच सेतु की तरह राज्य सरकार की योजनाओं को लागू कराने में जुटे मंत्री कपिल देव अग्रवाल का सामाजिक और राजनीतिक जीवन सभी देख चुके है, लेकिन आज उनको स्टेडियम की पिच पर हाथ में बल्ला थामे एक खिलाड़ी की तौर पर भी लोगों ने देखा। जब मंत्री कपिल देव अग्रवाल क्रिकेटर बनकर मैदान पर उतरे तो खेल के सहारे कल्याण का संदेश देने का काम किया गया।





जिला प्रशासन ने खेल के मैदान से समाज के दिलों तक उतरने के लिए कदम आगे बढ़ाया है


बता दें कि पूर्व में जिला प्रशासन ने शासन और प्रशासन के द्वार खोलने के लिए लोगों को खेल के मैदान से संदेश देने की अनूठी पहल शुरू की थी। जनपद में प्रशासन के साथ समन्वय स्थापित करने की इस पहल में व्यापारियों, उद्यमियों, पत्रकारों और अन्य समाजसेवी संगठनों को जोड़कर अधिकारियों और आम लोगों के बीच की बनी झिझक को तोड़ने का काम किया गया था। इसके सार्थक परिणाम भी सामने आये। जिला पुलिस प्रशासन का सामाजिक दायरा बढ़ा और अधिकारियों ने जनता के बीच एक सकारात्मक विचारधारा के साथ ही आपसी सद्भाव को प्रगाढ़ करने में सफलता हासिल की थी, लेकिन इसी बीच जनपद में हुई कुछ घटनाओं ने प्रशासन और पब्लिक के बीच दूरियों को बढ़ा दिया था। खेल के मैदान पर शुरू हुई इस सार्थक पहल को भी विराम लग गया, लेकिन अब फिर से जिला प्रशासन ने खेल के मैदान से समाज के दिलों तक उतरने के लिए कदम आगे बढ़ाया है।





चौधरी चरण सिंह स्पोर्ट्स स्टेडियम का मैदान प्रशासन और पब्लिक के बीच समन्वय बनाने की पहल का गवाह बना

रविवार को सुबह एक बार फिर से चौधरी चरण सिंह स्पोर्ट्स स्टेडियम का मैदान प्रशासन और पब्लिक के बीच समन्वय बनाने की पहल का गवाह बना। आज जनपद के उद्यमियों और पुलिस प्रशासन के बीच मैत्री क्रिकेट का आयोजन किया गया। इस मैच की पृष्ठभूमि में राज्य सरकार के व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्यमंत्री ( स्वतंत्र प्रभार )कपिल देव अग्रवाल रहे। आज सवेरे उद्योग जगत की प्रमुख हस्तियों और पुलिस प्रशासन के आला अफसरों के साथ मैच हुआ। इण्डियन इण्डस्ट्रीज एसोसिएशन चैप्टर मुजफ्फरनगर और जिला प्रशासन के बीच इस मैच का शुभारम्भ मंत्री कपिल देव अग्रवाल ने टाॅस कराकर किया। इसके साथ ही उन्होंने बल्ले के साथ खेल के मैदान पर हाथ भी आजमाये। उद्यमियों की बाॅलिंग पर मंत्री की बैटिंग ने वहां पर उत्साह और उल्लास का वातावरण पैदा किया। मंत्री कपिल देव ने क्रिकेटर बनकर जनपदीय विकास के लिए शासन की योजनाओं को जनपद में औद्योगिक विकास को ऊंचाईयों तक ले जाने के प्रयास करने का आश्वासन दिया। उन्होंने सभी खिलाड़ियों का परिचय प्राप्त करते हुए कहा कि राज्य सरकार खेल के विकास के लिए प्रयासरत है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी के लिए एक सुलभ और सरल प्रशासनिक व्यवस्था देने का काम किया है। खेल के मैदान आपसी समन्वय और सौहार्द्र के साथ साथ सद्भाव पैदा करने में सहायक सिद्ध होते हैं।

एसएसपी अभिषेक यादव के कामकाज की प्रशंसा


इस अवसर पर उन्होंने जहां एसएसपी अभिषेक यादव के कामकाज की प्रशंसा की, वहीं इस मैत्री के मैच के आयोजन के लिए जिला क्रिकेट संघ के प्रमुख उद्यमी व समाजसेवी भीमसेन कंसल को बधाई दी। पुलिस व प्रशासन की टीम का नेतृत्व पुलिस कप्तान अभिषेक यादव ने किया, उनकी टीम ने पहले बल्लेबाजी की। इसमें एसपी सिटी सतपाल अंतिल, एडीएम प्रशासन अमित सिंह, सीओ मण्डी हरीश भदौरिया ने अपने कप्तान के साथ मिलकर एक अच्छा स्कोर खड़ा करने का काम किया। वहीं उद्यमियों की टीम की अगुवाई भीमसैन कंसल के द्वारा की गयी।

इस मौके पर मंत्री कपिल देव अग्रवाल के पीआरओ अश्वनी भी मौजूद रहे।

epmty
epmty
Top