टारगेट किलिंग-घर में घुसकर SPO को गोली मारी- जगह जगह प्रदर्शन

टारगेट किलिंग-घर में घुसकर SPO को गोली मारी- जगह जगह प्रदर्शन

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर में कश्मीरी पंडितों के मामले को लेकर बनी बहुचर्चित फिल्म दा कश्मीर फाइल्स भी कश्मीरी पंडितों की स्थिति में कोई सुधार नहीं ला सकी है। जम्मू कश्मीर में तमाम दावों के विपरीत आतंकवादी सुरक्षा बलों के जवानों के साथ साथ कश्मीरी पंडितों को भी अपना निशाना बना रहे हैं। पुलवामा में आतंकवादियों ने घर में घुसकर एक एसपीओ को गोली मार दी। गंभीर हालत के चलते अस्पताल ले जाए गए एसपीओ की मौत हो गई है। कश्मीर में 24 घंटे के भीतर टारगेट किलिंग की दूसरी घटना होने के बाद घाटी में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है और जगह-जगह नागरिकों द्वारा हत्याओं के विरोध में प्रदर्शन किए जा रहे हैं।

शुक्रवार को पुलवामा में आतंकवादियों द्वारा घर में घुसकर एचपीओ रियाज अहमद की गोली मारकर हत्या कर दी गई है। घर में घुसे आतंकवादियों ने एसपीओ के ऊपर ताबड़तोड़ फायरिंग की, गंभीर हालत के चलते अस्पताल ले जाए गये एसपीओ की मौत हो गई।

इससे पहले बृहस्पतिवार की शाम आतंकवादियों द्वारा तहसीलदार ऑफिस में क्लर्क के पद पर तैनात राहुल भट्ट को उसके ऑफिस में घुसकर गोली मार दी गई थी। मौके पर मौजूद लोगों ने राहुल भट्ट को अस्पताल में भर्ती कराया था। जहां उनकी मौत हो गई थी। सूचना पर पहुंची पुलिस को घटना से गुस्साए लोगों ने राहुल भट्ट का शव उठाने से इंकार कर दिया था। राहुल भट्ट की पत्नी मीनाक्षी ने बताया है कि आतंकवादियों ने ऑफिस में जाकर पूछा कि राहुल भट्ट कौन है और उनके होने का पता चलता है आतंकवादियों ने उनके ऊपर गोली चला दी।

बताया जा रहा है कि राहुल भट्ट लगातार अपने ट्रांसफर की मांग कर रहे थे, लेकिन किसी ने उनकी मांग को नहीं सुना। राहुल भट्ट का आज शुक्रवार की सवेरे बनतालाब में अंतिम संस्कार कर दिया गया है। मौके पर पहुंचे भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र रैना का लोगों ने विरोध किया।

Top