आपूर्ति के लिए बिजली बचाने में बिजली विभाग ने मांगा सहयोग

आपूर्ति के लिए बिजली बचाने में बिजली विभाग ने मांगा सहयोग
  • whatsapp
  • Telegram

मुजफ्फरनगर। भीषण गर्मी की वजह से निरंतर बढ़ रही बिजली की मांग को पूरा करने में लगे विद्युत विभाग ने अब आपूर्ति को सुचारू रखने के लिए उपभोक्ताओं से सहयोग मांगते हुए कहा है कि वह जरूरत के मुताबिक बिजली का उपयोग करते हुए समय अनुरूप अपने बिजली संबंधित काम पूरे करें और बिजली बचाने में अपना हर संभव योगदान दें।

मंगलवार को पश्चिमांचल विद्युत वितरण निगम लिमिटेड के अधिकारियों की ओर से कहा गया है कि इस बार की अत्यधिक गर्मी किसी बाढ़, भूकंप या चक्रवात की भांति एक प्राकृतिक आपदा के रूप के आई है जिसका हम सभी सामना कर रहे हैं। उन्होंने कहा है कि बिजली की मांग अप्रत्याशित रूप से बिजली मंत्रालय के सभी अनुमानों को तोड़कर अपने उच्चतम स्तर पर पहुंच कर उत्तर प्रदेश में लगभग 30 हजार मेगा वाट हो गई है जो कि विगत वर्ष इसी अवधि की तुलना में लगभग 65% ज्यादा हैं, इस अप्रत्याशित और रिकॉर्ड मांग को हमने आप सबके सहयोग से पूरा भी किया।

बताते चले कि बिजली डिस्ट्रीब्यूशन प्रणाली ओवर लोड चल रही है। ऐसे में कभी-कभी सिस्टम ओवर लोड पर ट्रिप (बंद) हो रहा है अथवा सिस्टम को सुरक्षित रखने हेतु आधे से एक घंटे की रोस्टरिंग (बिजली कटौती) करनी पड़ सकती है। अधिकारियों ने बताया है कि बिजली विभाग के लाइन कर्मचारी एवम इंजीनियर रात दिन काम कर रहें हैं तथा आप उपभोक्ताओं को बिजली आपूर्ति देने का प्रयास कर रहे हैं। इस भीषण गर्मी में ओवरलोडिंग के कारण ट्रांसफार्मर फट जा रहे, केबिल में फॉल्ट आ जा रहा। इस 48 डिग्री में भी लोहे के पोल पर, जिसे छू भर लेने से हाथ में फफोला पड़ जाए, चढ़ कर, बिजली कर्मी लाइन ठीक कर रहे हैं और ऐसे में अक्सर हमारे साथी बुरी तरह झुलस जा रहे तथा आये दिन बिजली कर्मियों की मौत भी हो जा रही है।

बिजली अधिकारियों ने उपभोक्ताओं से अनुरोध किया है कि इस अति महत्वपूर्ण समय में आप हमारा सहयोग करें। फॉल्ट होने पर अथवा रोस्टरिंग (बिजली कटौती) होने पर थोड़ा सा धैर्य रखें। आवश्यक होने पर 1912 अथवा बिजली उपकेन्द्र पर जानकारी लेने हेतु फोन करें। लाइन स्टाफ को फोन करने से बचें, जिससे वह जल्दी फॉल्ट ठीक कर आपूर्ति बहाल कर सके तथा सुरक्षित भी रहे। बिजली अधिकारियों ने कहा है कि हम सभी आप ही के परिवार के हैं, जिसके चलते कुछ सरल उपाय कर ओवरलोडिंग कम करने में हमारी मदद करें।

बिजली अधिकारियों ने सलाह दी है कि

(1) अपने घर के सभी बिजली उपकरण एक साथ न चलाएं।

(2) सबमर्सिबल पंप, वाशिंग मशीन,प्रेस इत्यादि उपकरण का प्रयोग सुबह 6.०० से 9.०० बजे के बीच करें।

(3) AC का टेप्रेचर 24-26 डिग्री रखें तथा AC को भी लगातार 10-12 घंटे तक न चलाए, बीच में AC को आधे घंटे का आराम दें, जिससे कंप्रेसर न फटे ।

(4) एनर्जी एफिशिएंट (जिनमे बिजली की बचत हो) बिजली उपकरणों का प्रयोग करें।

(5) बिजली वायरिंग ठीक रखें एवम अर्थिंग की जांच कर ठीक करा लें।

(6) मात्र सजावट/ दिखावे के लिए बिजली की फिजूल खर्ची न करें।

(7) जब तक बिजली प्रणाली ओवरलोड चल रही है यथा संभव परिवार के सदस्य आवास के कम से कम कमरों का प्रयोग करें, जिससे चालू AC की संख्या कम रहे

(8) बिजली की चोरी न करें और यदि आस पड़ोस में कोई बिजली चोरी कर रहा है,तो इसकी सूचना बिजली विभाग को 1912 पर दें।

  • whatsapp
  • Telegram
epmty
epmty
Top