फोनपे ने फ्लिपकार्ट के साथ की साझेदारी

फोनपे ने फ्लिपकार्ट के साथ की साझेदारी

नई दिल्ली । डिजिटल भुगतान प्लेटफॉर्म फोनपे ने पे-ऑन-डिलीवरी ऑर्डर के लिए कॉन्टैक्ट लेस स्कैन और पे लॉन्च करने के वास्ते ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस फ्लिपकार्ट के साथ साझेदारी की है।

फोनपे का डायनामिक क्यूआर कोड के द्वारा वैसे ग्राहक जिन्होंने पहले डिलीवरी के समय कैश ऑन डिलीवरी का विकल्प चुना था, वे डिलीवरी के समय किसी भी यूपीआई ऐप के माध्यम से डिजिटल भुगतान कर सकते हैं। यह सुरक्षा सुनिश्चित करते हुए व्यक्तिगत संपर्क को कम करने में मदद करेगा, और उन ग्राहकों के लिए संपर्क रहित भुगतान को बढ़ावा देगा जो परंपरागत रूप से कैश ऑन डिलीवरी के साथ अधिक सहज हैं।

साझेदारी पर बोलते हुए, फोनपे के डायरेक्टर ऑफ़ बिजनेस, अंकित गौर ने कहा, "यूपीआई की बदौलत पिछले कुछ वर्षों में डिजिटल भुगतान को अपनाना व्यापक हो गया है। हालांकि, डिलीवरी के समय कुछ ग्राहकों के बीच कैश ऑन डिलीवरी की प्राथमिकता अभी भी बनी हुई है। इन कैश-आधारित भुगतानों को डिजिटाइज़ करने से न केवल ई-कॉमर्स को बढ़ावा मिलेगा, बल्कि डिजिटल इंडिया के बड़े लक्ष्य में भी योगदान होगा। अपने पे ऑन डिलीवरी ग्राहकों के लिए संपर्क रहित और सुरक्षित भुगतान को सक्षम करने के लिए फ्लिपकार्ट के साथ हमारी साझेदारी उस दिशा में एक बड़ा कदम है। हमारा समाधान न केवल ग्राहकों को एक सहज और संपर्क रहित भुगतान अनुभव प्रदान करता है, बल्कि ई-कॉमर्स और लॉजिस्टिक्स कंपनियों के लिए कैश हैंडलिंग लागत को कम करने में भी मदद करता है।"

फ्लिपकार्ट में फिनटेक और पेमेंट्स ग्रुप के प्रमुख रंजीत बोयानापल्ली ने कहा, "चूंकि ई-कॉमर्स मार्केटप्लेस और डिजिटल भुगतान के बीच की रेखाएं अभिसरण करती रहती हैं, इसलिए ग्राहकों की उभरती जरूरतों को ध्यान में रखना अनिवार्य हो जाता है। अब जब महामारी की वजह से उपभोक्ता ऑनलाइन खरीदारी में बदलाव करने पर ध्यान दे रहे हैं, लेकिन चेकआउट के दौरान कुछ विश्वास की कमी अब भी बनी हुई है। 'पे-ऑन-डिलीवरी' तकनीक के साथ, हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि ग्राहकों को अपने भुगतान के साथ मानसिक शांति मिले और साथ ही वे अपने घर की सुरक्षा में रहकर खरीदारी कर सकें।"

वार्ता

Top