बैंक ऑफ बड़ौदा में पहली मार्च से नये नियम

बैंक ऑफ बड़ौदा में पहली मार्च से नये नियम

नई दिल्ली। बैंक ऑफ बड़ौदा के खाता धारकों के लिए बड़ी खबर है। 1 मार्च 2021 के बाद से आप लोग ऑनलाइन ट्रांजेक्शन नहीं कर पाएंगे। बता दें केंद्र सरकार ने कुछ समय पहले देना बैंक और विजया बैंक का बैंक आफ बड़ौदा में मर्जर कर दिया था, जिसके बाद इन दोनों बैंकों के ग्राहक बैंक ऑफ बड़ौदा के ग्राहक बन गए थे। 1 तारीख से विजया बैंक और देना बैंक के आईएफएससी कोड काम नहीं करेंगे। यानी ग्राहकों को नए आईएफएससी कोड की जरूरत होगी।

आईएफएससी कोड बदलने के बाद ग्राहक ऑनलाइन पैसे ट्रांसफर नहीं कर पाएंगे। इस बात की जानकारी बैंक ऑफ बड़ौदा ने सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए दी है और कहा है कि ई-विजया और ई-देना आईएफएससी कोड 1 मार्च 2021 से बंद हो जाएंगे। आईएफएससी कोड के बदलाव का खाताधारकों पर असर पड़ेगा। आपको बता दें ऑनलाइन ट्रांजेक्शन के लिए बैंक अकाउंट नंबर के साथ बैंक का आईएफएससी यानी इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम कोड एड करना पड़ता है। तो आप फटाफट अपना नया आईएफएससी कोड जान लें वरना आप 1 मार्च से पैसा ट्रांसफर नहीं कर पाएंगे।

इसके अलावा आप मैसेज भी कर सकते हैं। मैसेज में आपको लिखना है "MIGR Last 4 digits of the old account number" अब इस मैसेज को आपको अपने रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर से 8422009988 पर भेज दें।

अगर आपको आईएफएससी कोड से जुड़ी कोई भी परेशानी है तो आप 1800 258 1700 इस टोल फ्री नंबर पर कॉल कर सकते हैं या फिर आप बैंक की ब्रांच पर भी विजिट कर सकते हैं। आईएफएससी कोड 11 अंकों का होता है। आईएफएससी कोड में शुरू के चार अक्षर बैंक के नाम को दर्शाते हैं। आईएफएससी कोड का इस्तेमाल इलेक्ट्रॉनिक पेमेंट के दौरान किया जाता है। बैंक के किसी भी ब्रांच को उस ब्वकम के जरिए ट्रैक किया जा सकता है। इसको आप बैंक अकाउंट और चेक बुक के जरिए पता कर सकते हैं।

बैंक ऑफ बड़ौदा ने यह भी कहा है कि ग्राहक अपनी बैंक शाखा से नए एमआईसीआर कोड वाले चेक बुक 31 मार्च 2021 तक प्राप्त कर सकते हैं। इसके अलावा नए चेक बुक के लिए आप नेट बैंकिंग/मोबाइल बैंकिंग से भी अप्लाई कर सकते हैं।

Top