डीजल की कीमतों में आया उबाल-पहुंचा 122 रुपए के पार

डीजल की कीमतों में आया उबाल-पहुंचा 122 रुपए के पार

नई दिल्ली। देश की पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से डीजल के थोक उपभोक्ताओं के लिए इसके दामों में 25 रुपए प्रति लीटर की बढ़ोतरी कर दी गई है। जिसके चलते देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में थोक उपभोक्ताओं के लिए डीजल के दाम 122 रुपए प्रति लीटर के पार पहुंच गए हैं।

रविवार को पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से थोक ग्राहकों को बिक्री के लिए दिया जाने वाला डीजल 25 रूपये प्रति लीटर महंगा हो गया है। थोक उपभोक्ताओं के लिए डीजल की कीमतों में की गई 25 रूपये प्रति लीटर की बढ़ोतरी अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में 40 फीसदी का उछाल आने के बाद की गई है। हालांकि पेट्रोल पंपों के माध्यम से बेचे जाने वाले डीजल की खुदरा कीमतों में पेट्रोलियम कंपनियों की ओर से कोई बदलाव नहीं किया गया है। इस महीने पेट्रोल पंपों की बिक्री में 20 प्रतिशत का भारी उछाल आया है। बस अडडों एवं माल जैसे थोक उपभोक्ताओं द्वारा पेट्रोल पंप से खरीदा गया है। जबकि आमतौर पर वह पेट्रोलियम कंपनियों से सीधे इनकी खरीद करते हैं इससे ईंधन की खुदरा बिक्री करने वाली कंपनियों का नुकसान बढा है।

सबसे अधिक प्रभावित नायरा एनर्जी, जिओ बीपी एवं शैल जैसी कंपनियां प्रभावित हुई है। बिक्री बढ़ने के बावजूद इन कंपनियों ने अभी तक डीजल की मात्रा में कमी नहीं की है लेकिन अब पंपों के लिए परिचालन आर्थिक रूप से व्यावहारिक नहीं रह जाएगा।

Top