जिला योजना में प्राप्त धनराशि से विकास कार्य समय के अन्तर्गत पूर्ण कराये जाये : चेतन चौहान

जिला योजना में प्राप्त धनराशि से विकास कार्य समय के अन्तर्गत पूर्ण कराये जाये : चेतन चौहान

मुजफफरनगर सैनिक कल्याण, होमगार्डस, नागरिक सुरक्षा एवं प्रान्तीय रक्षक दल विभाग उ0प्र0 एवं प्रभारी मंत्री चेतन चौहान ने जिला योजना वर्ष 2020-21 के अनुमोदन हेतु विकास भवन में जिला योजना समिति की बैठक कर गन्ना विभाग द्वारा 1898.56 लाख रूपये का प्रस्ताव उन्नतशील गन्ना बीज उत्पादन/वितरण कार्यक्रम, बीज/भूमि उपचार कार्यक्रम, पैडी प्रबन्धन कार्यक्रम तथा जैव उरर्वक, वर्गी कम्पोस्ट एवं गन्ना बीज यातायात परियोग तथा अन्तरग्रामीण सडकों के निर्माण के लिए प्रस्तुत किया। पशुपालन विभाग द्वारा पशु चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा रोगनिदान सेवाआंे के सुधार एवं विस्तार के लिए तथा गाय एवं भैसो में कृत्रिम गर्भाधान द्वारा पशु पजनन सुविधाओं के सुधार के साथ ही शुकर प्रजनन प्रक्षेत्रों के विस्तार एवं सुदृढीकरण तथा चारा एवं चरागाह विकास योजनाओं के लिए 263.76 लाख रूपये के प्रस्ताव अनुमोदित किये गये। दुग्ध विकास विभाग द्वारा दुग्ध उत्पादन वृद्धि हेतु दुग्ध उत्पादकों/समितियों को तकनीकी निवेश तथा दुग्ध संघों/समितियों का सुदृढीकरण एवं पुर्नगठन एवं विस्तार के प्रस्ताव के साथ ही कृषकों का प्रशिक्षण तथा आटोमैटिंक मिल्क कनेक्शन यूनिट के कुल 221.53 के प्रस्ताव अनुमोदित किये गये।






प्रभारी मंत्री चेतन चौहान ने बताया कि वन विभाग द्वारा शहरी क्षेत्रो में सामाजिकी वानिकी तथा सामाजिक वानिकी कार्यक्रमों के लिए 86.04 लाख रूपये की धनराशि के प्रस्ताव अनुमोदित किये गयेे। इसके साथ ही ग्राम विकास, इन्दिरा आवास, प्रधानमंत्री आवास योजना के अन्तर्गत 4800 लाख रूपये के प्रस्ताव अनुमोदित किये गये। पंचायती राज में सीसी रोड एवं केसी डेªन का निर्माण, बहुउदे्श्य भवनों का निर्माण के 3078.24 लाख रूपये के प्रस्ताव सम्मिलित किये गये। निजी लघु सिचाई योजना के अन्र्तगत गहरे नलकूप, बोरिंग पम्प सेट/नलकूप, बोरिंग गोदाम, मध्यम नलकूप तथा ग्राउण्ड वाटर चार्जिंग/चैक डैम के 366.60 लाख रूपये के प्रस्ताव अनुमोदित किये गयेे। नेडा के विभाग के 125 लाख रूपये के प्रस्ताव अनुमोदित किये गये किये गये।





प्रभारी मंत्री चेतन चौहान ने बताया कि सडक एवं पुल के निर्माण के अन्तर्गत ग्रामीण मार्गो का पुर्ननिर्माण तथा नवीन ग्रामीण सडकों के निर्माण हेतु 10867.54 लाख रूपये के प्रस्ताव शामिल किये गये। इसके अतिरिक्त प्राथमिक शिक्षा में जिले में मिड-डे-मिल येाजना तथा सर्वशिक्षा अभियान के अन्र्तगत शिक्षामित्रों को मानदेय सम्बन्धी 624.80 लाख रूपये के प्रस्ताव भी अनुमोदित किये गयेे। माध्यमिक शिक्षा के अन्तर्गत व्यसायिक शिक्षा के विषय विशेषज्ञ को मानदेय तथा राष्ट्रीय माध्यमिक शिक्षा के अभियान के 1447 लाख रूपये के अनुमोदन प्रदान किया। इसी प्रकार चिकित्सा विभाग के एलोपैथिक के अन्तर्गत प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रो का निर्माण, सामुदाय स्वास्थ्य भवनों का निर्माण, वर्तमान प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रो के नवीनीकरण, विस्तारण एवं बिजली, पानी की व्यवस्था के अन्तर्गत तथा प्लास्टिक सर्जरी/ बर्न यूनिट, रेडियों लोजिक यूनिट, इसेटिव केयर यूनिट के लिए 2715.23 लाख रूपये के प्रस्ताव जिला योजना में सम्मिलित किये गये। हम्योपैथिक में 126.92 लाख रूपये तथा आयुर्वेद एवं यूनानी चिकित्सा के लिए 35 लाख रूपये प्रस्तावित हुए। इसके अतिरिक्त नगरीय विकास जल निगम 887.90 लाख रूपये के प्रस्ताव जिला योजना में अनुमोदित किये गयेे। इसके अतिरिक्त समाज कल्याण पेंशन 435 लाख रूपये, दिव्यांगजन सशक्तिकरण 178.66 लाख रूपये, अल्पसंख्यक कल्याण 110.50 लाख रूपये एवं पिछडा वर्ग कल्याण के 257.58 लाख रूपये, अनुसूचित जाति कल्याण के 297 लाख रूपये, समाज कल्याण सामान्य जाति 232 लाख रूपये के प्रस्ताव सम्मिलित हुए। आई0टी0आई0 शिल्पकार प्रशिक्षण के 250 लाख रूपये, महिला एवं बाल विकास कल्याण 468.06 लाख रूपये, सहकारिता विभाग के 250 लाख रूपये, ग्राम्य विकास के विशेष कार्यक्रम 313.06 लाख रूपये, रोजगार कार्यक्रम मनरेगा 2375.37 लाख रूपये, राजकीय नलकूप के 16.90 लाख रूपये, प्रादेशिक विकास दल के 35.75 लाख रूपये की धनराशि के प्रस्ताव जिला योजना मे प्रस्तुत किये गयें।





प्रभारी मंत्रीे ने प्रदूषण अधिकारी को निर्देश दिये कि उधोगों का गन्दा पानी नदी में न गिरने पाये उन्होने कहा कि प्रदूषण विभाग यह सुनिश्चत करे कि सभी उघोगो में वाॅटर ट्रीटमंेट प्लान्ट लगा होना चाहिए। उन्होने कहा कि काॅमन ट्रीटमेंट प्लान्ट लगाने पर भी विचार किये जाने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि प्राथमिक विद्यालयों में कायाकल्प के अन्तर्गत चाहरदीवारी कराये जाने, जनपद में खेलकूद प्रतियोगिता कराये जाने के भी निर्देश दिये। उन्होने सेवायोजन अधिकारी को निर्देश दिये कि जिन युवाओं को रोजगार दिया जा रहा है उनके मोबाईल नम्बर, नाम व पता की सूची बनाई जाये और समय समय पर उनसे रोजगार के सम्बन्ध में वार्ता भी की जाये। उन्होने यह भी निर्देश दिये कि गत वर्ष जिला योजना की बैठक मंे उनके द्वारा योजनाओं के सम्बन्ध में जनप्रतिनिधियों को जानकारी उपलब्ध कराये जाने के निर्देश दिये गये थे। उन्होने निर्देश दिये कि समस्त परियोजनाओं के सम्बन्ध में जनप्रतिनिधियों को जानकारी उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाये। मा0 मंत्री जी ने समाज कल्याण व प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के समबन्ध में भी जानकारी ली। उन्होने कहा कि किसानों का डेटा शीघ्र ठीक कराया जाये।

प्रभारी मंत्री ने निर्देश दिये जनपद की सरकारी टयूबवेल पूर्ण रूप से संचालित की जाये और उनकी नाली व गूल की मरम्मत एव सफाई कराई जाये। प्रभारी मंत्री ने कहा कि अधिकारी संवेदनशील होकर सदस्यों से उनके क्षेत्रो की समस्याओं के बारे मेे जाने और उनका निराकरण कराये। उन्होने निर्देश दिये कि जिला योजना में प्राप्त धनराशि से विकास कार्य शीघ्र पूर्ण कराये जाये।

बैठक विधायक उमेश मलिक, विक्रम सैनी, प्रमोद ऊटवाल, जिलाधिकारी सेल्वा कुमारी जे, मुख्य विकास अधिकारी आलोक यादव, अपर जिलाधिकारी अमित सिंह, भाजपा जिला अध्यक्ष विजय शुक्ला सहित सभी जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

epmty
epmty
Top