भैंसा बुग्गी की दौड़ के शौकीनों पर आईपीएस अभिषेक का शिकंजा

मुजफ्फरनगर। जनपद में भैंसा बुग्गी दौड़ ग्रामीण अंचलों में एक बड़ा जोखिम भरा शौक है। पूर्व में इस दौड़ के शौकीनों के शौक के चलते सड़कों पर मनमर्जी ढंग से कराये जाने वाली इस दौड़ के कारण कई हादसों में लोगों को जान तक गंवानी पड़ी है। कई लोग गंभीर रूप से घायल हुए है। इनमें दौड़ में प्रतिभाग करने वाले भी शामिल रहे हैं। आज ऐसे ही एक आयोजन का वीडियो सोशल मीडिया पर जारी होने के बाद पुलिस कप्तान अभिषेक यादव ने सख्त रवैया अपनाया और दौड़ के आयोजन के सम्बंध में मुकदमा पंजीकृत कराने के साथ ही इसमें शामिल रहे सभी लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिये हैं।

बता दें कि एसएसपी अभिषेक यादव द्वारा जनहितों को लेकर भी अपनी जिम्मेदारी निभायी जा रही है। शहर को जाम मुक्त बनाने के लिए उन्होंने रोडवेज बसों को शहर से बाहर कराया तो वहीं सोशल मीडिया पर बस में छत और पीछे सवारियो के लटककर सफर करने का वीडियो वायरल होने पर पूरे जिले में ही अभियान चलाकर इसे बन्द कराया, अब ऐसे ही एक वीडियो के मामले में उन्होंने कार्रवाई की है। भोपा थाना क्षेत्र में मुख्य मार्ग पर भैंसा बुग्गी की दौड़ का वीडियो वायरल हुआ तो आईपीएस अभिषेक ने शिकंजा कस दिया।

जनपद मुजफ्फरनगर में सभी थाना प्रभारियों को थानाक्षेत्रों में भैंसा बुग्गी की दौड न कराने हेतु निर्देशित किया गया है, जिसमें रविवार 13 अक्टूबर को थानाक्षेत्र भोपा की एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुई जिसमें भैंसा बुग्गी की दौड होती हुई प्रदर्शित हुई, जिसमें एसएसपी अभिषेक यादव के आदेशानुसार थाना प्रभारी भोपा द्वारा कार्यवाही करते हुए उपरोक्त दौड में शामिल तथा दौड कराने वाले 11 अभियुक्त नामजद व अन्य अज्ञात के विरुद्ध थाना भोपा पर मनुष्यजन की सुरक्षा व अभियुक्तों द्वारा पशुओं पर की जा रही क्रूरता पर धारा-279,307 भादवि व 3/11 पशु क्रुरता अधिनियम के तहत अभियोग पंजीकृत किया गया है तथा उक्त अभियुक्तों के विरुद्ध तत्काल वैधानिक कार्यवाही की जा रही है। एसएसपी अभिषेक यादवद्वारा सभी थाना प्रभारियों को सख्त निर्देश निर्गत किये गये है कि किसी भी थानाक्षेत्र में इस प्रकार की भैंसा बुग्गी दौड न हो, जिससे आमजन को हानि हो तथा पशुओं पर दौड कराने के रुप में क्रूरता दिखाई जाए। यदि किसी थानाक्षेत्र में इस प्रकार की दौड करायी गयी तो सम्बन्धित क्षेत्राधिकारी व थाना प्रभारी द्वारा दौड कराने वाले व्यक्तियों पर तत्काल वैधानिक कार्यवाही की जाएगी।

Top