आईपीएस अभिषेक यादव का दुलार पाकर खिल उठा सिपाही का चेहरा

आईपीएस अभिषेक यादव का दुलार पाकर खिल उठा सिपाही का चेहरा

मुजफ्फरनगर। आईपीएस अभिषेक यादव का 'हैप्पी बर्थ-डे' अभियान निरंतर जारी है। पुलिस कर्मियों में काम के बोझ और उनके टूटते मनोबल को बढ़ाने के लिए थानों में पुलिस कप्तान के इस अभियान ने कारगर असर दिखाया। पुलिस कर्मचारी अपने कप्तान के इस अभियान के सहारे खुशी के दो पल मिलने पर उत्साहित हैं। अभी तक थानों में एएसपी और सीओ सहित थाना प्रभारी ही अपने पुलिस कर्मियों का जन्म दिवस मनाने के लिए पार्टियों में शामिल होते रहे, लेकिन जब जिले का पुलिस मुखिया खुद आगे आकर अपने कर्मचारी को उसके जन्म दिवस पर 'हैप्पी बर्थ-डे' कहकर केक खिलाने का काम करे तो उत्साह और दोगुना हो जाता है। ऐसा ही एक भावुक नजारा बुढ़ाना कोतवाली परिसर में देखने को मिला, जबकि थाने में तैनात सिपाही का जन्म दिवस खुद एसएसपी अभिषेक यादव ने मनाया, उसको केक खिलाया और बधाई भी दी।


जनपद में 5 सितम्बर को आईपीएस अभिषेक यादव ने अपना जन्म दिवस मनाया। इस दिन उनको पुलिस मुखिया डीजीपी ओपी सिंह का एक ग्रीटिंग मिला। इसमें जन्म दिवस की मुबारकबाद के लिए शब्दों से मिले प्रोत्साहन ने अभिषेक यादव को जो क्षणिक प्रसन्नता दी, उसी उत्साह को उन्होंने दिल से महसूस किया। इसी से एसएसपी अभिषेक यादव ने इसे अपने जिले में लागू करने का काम किया। उन्होंने आदेश जारी किये कि सभी थानों में वहां पर तैनात पुलिस कर्मचारियों का बर्थ डे मनाया जायेगा।


... SSP मुजफ्फरनगर द्वारा मनाया गया आरक्षी का जन्मदिवस



इसके बाद से ही थानों का माहौल बदल गया। थानों में काम के बोझ से तनाव में रहने वाले पुलिसकर्मियों के चेहरे खिल रहे हैं। थानों में पार्टियों का आयोजन हो रहा है और पुलिस अफसर अपने मातहत सिपाहियों के लिए 'हैप्पी बर्थ-डे टू यू' गा रहे हैं। इसकी शुरूआत नई मण्डी और खतौली कोतवाली से की गयी थी, तभी से यह दौर निरंतर चल रहा है। इसका सकारात्मक असर भी नजर आ रहा है। पुलिस कर्मियों में उत्साह और मनोबल भी बढ़ रहा है। इसमें खुद आईपीएस अभिषेक यादव आगे आकर प्रोत्साहित करने में भी जुटे हुए हैं।


बुधवार को एसएसपी अभिषेक यादव बुढ़ाना कोतवाली का निरीक्षण करने पहुंचे थे। उनको पता चला किय वहां पर तैनात सिपाही प्रदीप कुमार का जन्म दिवस आज ही है। अपने कप्तान के स्वागत की तैयारियों में जुटे सिपाही प्रदीप कुमार को एसएसपी ने बुलाया और थाना प्रभारी को उसके जन्म दिवस पर पार्टी करने के निर्देश दिये। इसके बाद थाने का माहौल ही बदल गया। केक मंगाया गया और एसएसपी अभिषेक यादव ने सिपाही के लिए खुद 'हैप्पी बर्थ-डे टू यू' गाया तो सिपाही प्रदीप कुमार भी अपने मुखिया की मौजूदगी में मिले इस सम्मान से भावुक हो गया। प्रदीप कुमार ने केक काटकर सबसे पहले एसएसपी अभिषेक यादव को खिलाया।



थानों में मनाये जा रहे पुलिस कर्मियों के जन्म दिन में एसएसपी का बधाई संदेश दिया जा रहा है, लेकिन प्रदीप कुमार इस मामले में भाग्यशाली रहे कि उनको खुद एसएसपी अभिषेक यादव ने मौजूद रहकर शुभकामनाएं दी और उसके उज्जवल भविष्य की कामना की। अपने कप्तान के मुख से मिले प्रोत्साहन को बड़ा ईनाम मानते हुए सिपाही प्रदीप कुमार ने कहा कि उनके जीवन का यह यादगार लम्हा रहा है। यह जन्मदिन उनको पूरे जीवन में याद रहेगा। उन्होंने कहा कि एसएसपी साहब ने एक अभिभावक के रूप में खुद आगे आकर उसका जन्म दिवस मनाया, बधाई दी, इससे उसका उत्साह बढ़ा है। वह कभी सोच भी नहीं सकता था कि आज निरीक्षण की तैयारी में एक तनाव के बीच ही उसको इतनी बड़ी खुशी मिल पायेगी।


एसएसपी अभिषेक यादव की इस सार्थक पहल से थानों में जहां जश्न का माहौल है, वहीं पुलिस कर्मचारियों में मनोबल बढ़ रहा है। वार्षिक निरीक्षण पर बुढ़ाना कोतवाली में एसएसपी ने थाना स्टाफ की मीटिंग ली। क्षेत्र के चौकीदारों को सम्मानित किया। माल खाने में पुलिस के हथियारों की स्थिति को परखा और रजिस्टरों का अवलोकन करते हुए रखरखाव को भी देखा। इस दौरान एसएसपी का गार्द सलामी से स्वागत किया गया। यह सभी पूर्व के कप्तानों के द्वारा भी वार्षिक निरीक्षण के दौरान होता आया है, लेकिन एसएसपी ने यहां पर जो किया, वह विरले ही देखने को मिलता है। सिपाही प्रदीप एसएसपी के चले जाने के बाद भी उत्साह से लबरेज नजर आ रहा था। ड्यूटी के दबाव में अपने परिवारों से दूर रहकर त्यौहारों को भुला देने वाले इस पुलिसकर्मियों को अपना जन्म दिवस याद रह पाये, ऐसा कोई अवसर काम का बोझ इनको मुहैया नहीं करा पाता लेकिन आज थानों में जाने पर ''हैप्पी बर्थ-डे' की बंदरवार नये बदलाव की साक्षी बनी नजर आती है।

Top